ताबो में हैं प्राचीन पांडुलिपियां

    Author: NARESH THAKUR Genre: »
    Rating

    गोम्पा के लिए प्रसिद्ध ताबो ऊंची पहाडि़यों से घिरा है। तिब्बत के थुलिग गोम्पा के बाद दूसरा प्राचीन गोम्पा ताबो में स्थित है। इसमें कई प्राचीन पांडुलिपियां संग्रहीत हैं…
    थिरोट
    लाहौल और चंबा जिले की सीमा पर पट्टन घाटी में थिरोट गांव है। यहां हिमाचल प्रदेश बिजली बोर्ड थिरोट नाले पर एक पावर हाऊस का निर्माण किया गया।
    ताबो
    लाहौल-स्पीति में 1000 फीट की ऊंचाई पर प्राचीन बौद्ध गोम्पा के लिए प्रसिद्ध ताबो ऊंची पहाडि़यों से घिरा है। तिब्बत के थुलिग गोम्पा के बाद दूसरा प्राचीन गोम्पा ताबो में स्थित है। इसमें कई प्राचीन पांडुलिपियां संगृहीत हैं। चित्रकारी और धर्म के ग्रंथ भी मौजूद हैं।
    त्रिलोकीनाथ
    त्रिलोकीनाथ का मतलब है तीन लोकों का स्वामी। लाहौल घाटी में त्रिलोकीनाथ नामक स्थान बुद्ध धर्म के अनुयायियों तथा हिंदुओं दोनों का ही पवित्र स्थल है।
     तीसा
    चंबा जिले का चुराह तहसील का यह मुख्यालय पाकृतिक सौंदर्य का उदाहरण है।
    तत्तापानी
    शिमला से 35 किलोमीटर दूर मंडी-शिमला मार्ग पर सतलुज के किनारे गर्म गंधकीय पानी के चश्मों के लिए प्रसिद्ध स्थान तत्तापानी है। यह एक महत्त्वपूर्ण पर्यटक स्थल भी है।
    त्रिलोकपुर
    नाहन से 8 किलोमीटर दूर त्रिलोकपुर देवी बाला सुंदरी मंदिर के लिए प्रसित्र है। यहां अपैल में एक मेला भी लगता है।
    साभार : दिव्य हिमाचल

    Leave a Reply

    Total Pageviews

    मेरा ब्लॉग अब सुरक्षित है