सायर मेले में झोंटो ने दिखाया साहस

    Author: NARESH THAKUR Genre: »
    Rating

     सायर मेला उत्सव सोमवार को मशोबरा के तलाई में बडी धूमधाम से मनाया गया। इस मेले में कसुम्पटी के विधायक राणा अनिरुद्ध सिंह ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। इस अवसर पर एसडीएम शिमला ज्ञान सागर नेगी भी उपस्थित थे। मशोबरा पंचायत के प्रधान नें मुख्य अतिथि को शॉल और टोपी पहनाकर स्वागत किया और मेले में आए लोगों का धन्यवाद किया।
    20 झोटों ने दिखाए करतब
    मेले का मुख्य आकर्षण झोटों की लड़ाई रही। इस दौरान 20 झोटों ने करतब दिखाए। कई झोटों ने लोगों को खूब दौड़ाया और कुछ लोग गिर भी गए। मेला कमेटी के प्रधान बालक राम वर्मा ने बताया कि संक्रांति के दिन झोटों का लडऩा शुभ माना जाता है। शनि के प्रकोप से बचने के लिए झोटों का लड़ाना और इसे देखना शुभ होता है।
    किसानों को किया सम्मानित
    अनिरुद्ध सिंह ने मेले में आयोजित कृषि प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर किसानों को सम्मानित भी किया। किवि में प्रथम कुंदन सिंह, सेब में देवी सिंह जापानी फल में हेम सिंह कागजी निंबू में भगत राम और बेमौसमी फल आम में गुम्मा से कृष्ण दास को सम्मानित किया गया। यह आयोजन कृषि प्रसार अधिकारी जगदीश वर्मा की देख-रेख में हुआ ।
    ज्यावड़ा का झोटा रहा विजयी
     
    यहां के ऐतिहासिक चौगान मैदान में सायर मेले का मुख्य आकर्षण झोटों की लड़ाई का आयोजन किया। मेले के पहले दिन जिला के विभिन्न गांवों से आए झोटों की रोमांचक लड़ाई ने लोगों का खूब मनोरंजन किया। स्थानीय लोगों ने झोटों की लड़ाई का खूब आनंद लिया। चौगान में 12 जोड़ी जोटों की लड़ाई करवाई गई। इसमें अर्की उपमंडल की पलोग पंचायत के ज्यावड़ा गांव का झोटा विजयी रहा।
    साभार :भास्कर

    One Response so far.

    1. आपकी यह प्रस्तुति 26-09-2013 के चर्चा मंच पर प्रस्तुत की गई है
      कृपया पधारें
      धन्यवाद

    Leave a Reply

    Total Pageviews

    मेरा ब्लॉग अब सुरक्षित है